Tag «hindipoem»

Woman: Beyond Definition

Woman Day -Her Quest For Identity

कौन  हूँ  मैं ? दुर्गा, काली, सीता का अभिमान मैं, या किसी के पैर की जुती का स्थान मैं।   कौन  हूँ  मैं ? कवि की रचना का फूल मैं, या पैदा होने से पहले कुचली,  वो कली मैं।   कौन  हूँ  मैं ? चाँद जिस खूबसूरती से जले वो जलन मैं, या चाँद जैसा …

BEATING: A FUN

BEATING: A FUN

  हेय सुनो।  क्या तुमने भी मेरी तरह मार खायी है। कहीं से पिट के आये हो या किसी को पीट के आये हो। दोनों ही सूरत में घर जाकर, मूरत केवल तुम्हारी ही बिगड़ी हो।   कहीं से गिरे हो या किसी को गिराया हो चोट लगी हो या किसी को लगायी हो कुछ भी …