Category «HINDI POEMS»

Get Here the best Hindi poems on love or other different topics. These are the best way to express your emotions in polite and shrewd manner. It is one of the most difficult method to express your emotions as you have to think over one topic for so long.

When people feel alone, sad, break up, they pick up kagaj kalam to write their emotions. But when you are mesmerized with someone’s beauty, nature, love, use poems to express.  Or you are feeling anger because of establishment’s stand on something. You can write your heart out in poems.

In this section, you will find Hindi poems for love, break ups, agitations,  Hindi motivational quotes, and others from various fields.

नर को अपना सहचर है माना

    नभ-तरु-सरोवर-भूधर, सब है नर के सहचर है ये सब कुदरत के दिए, मानव के हर्ष के लिए परंतु प्रकृति थी बेचारी भोली, जो मनुष्य ने माँगा दे डाली न जान पायी इंसान को, न उसके ह्रदय के लंकेश को पेड़-वन-पशु-पक्षी, सबको मानव ने दिया है कष्ट, केवल अपने आनंद के लिए, कुदरत को …

SUNDAY: Fursat Wala Missing Sunday

Fursat Wala Sunday

SUNDAY की सुबह है, बारिश का मौसम है। चाय नहीं, पकौड़े नहीं   गुरुर में थे, नींद से कोई जगा नहीं सकता बिस्तर से कोई हमें हिला नहीं सकता अचानक फिर WATS UP की रिंग हुई, मुँह से गालियों की BINGE हुई   फिर….. फिर क्या एक घंटे बाद OFFICE में GOOD MORNING हुई।

Change: पता नहीं कब

पता नहीं कब

समझदारी का ये चोला, पता नहीं कब औढ़ लिया गंभीरता ने चेहरे की मासुमियत छिन्नकर, खुशियों से, पता नहीं कब मुँह मोड़ लिया   अभी तो बैठे थे सब दोस्त मिलकर, बेफिक्री का आलम, पता नहीं कब तोड़ लिया। कभी रुकते नहीं थे पैर हॉस्टल के एक कमरे में, ऑफिस के एक केबिन में, पता …