Monthly archives: March, 2020

Locked Down: A Random Day

A Random Story

हालाँकि वर्क फ्रॉम होम मिला हुआ है । काम भी कर रहा हूँ । Even with Better Efficiency  पर दिमाग खुरापाती ढूंढ रहा है । क्या करूँ समझ में नहीं आ रहा है ।   हाथ – मुँह धोके जैसे मैं शीशे के सामने गया मेरे प्रतिबिम्भ (अरे वो ओनिडा वाला याद है ) के …

Cat: Love Means You

love for cat

चोर नहीं वो चोरी उसके शब्दकोष में नहीं, जानवर है मेरी बिल्ली,  इंसानो की फितरत में अभी रमी नहीं, मेरी गैर मौजूदगी में भी दूध में पतीले पे वो मुँह तक मारती नहीं, चोर चोर कहते हो तुम शायद चोर तुमने अभी देखे नहीं, विश्वास पे घात लगाए रहते हैं शुक्र करो तुम उनसे अभी …

Coronasur

coronasur

रोजाना की तरह अपने ऑफिस के बाहर चाय सुट्टा मारने पहुंचा तो देखता हूँ कोई नहीं सब खाली एक दम खाली ..   सिगरेट जलाते हुए पूछा:    क्या बात अंकल कोई आया नहीं अंकल चाय देते हुए : कोरोना बेटा कोरोना… बात शुरू ही हुयी थी की गिलास से धुँवा उठा और कुछ जिन्न …

Woman: Beyond Definition

Woman Day -Her Quest For Identity

कौन  हूँ  मैं ? दुर्गा, काली, सीता का अभिमान मैं, या किसी के पैर की जुती का स्थान मैं।   कौन  हूँ  मैं ? कवि की रचना का फूल मैं, या पैदा होने से पहले कुचली,  वो कली मैं।   कौन  हूँ  मैं ? चाँद जिस खूबसूरती से जले वो जलन मैं, या चाँद जैसा …